कौन है आईपीएल 2020 के सब से चहिते खिलाड़ी अब्दुल समद?

कौन है आईपीएल 2020  के सब से चहिते खिलाड़ी अब्दुल समद?

दुबई में खेले जा रहे आईपीएल के 13वें संस्करण के 11वें मैच, यानी मंगलवार को जम्मू कश्मीर के 18 वर्ष के खिलाड़ी अब्दुल समद ने सनराइजर्स हैदराबाद के तरफ से दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मुकाबले में खेलने के लिए पहली बार मौका दिया गया। कश्मीर के अब्दुल समद को पिछले साल 20 लाख की बोली लगाकर सनराइजर्स हैदराबाद ने अपनी टीम में शामिल किया था।

 अब्दुल समद ने इस मैच के जरिए आईपीएल 2020 का पहला मैच खेला। अब्दुल समद मंगलवार को हो रहे, आईपीएल के धुआंधार मुकाबले में दिल्ली कैपिटल के खिलाफ खेलने के लिए मैदान मे उतरे ही थे, की लोगो की नजरें उन्ही पर टिक गई, लोग काफी उत्सुक नज़र आ रहे थे उन्हे खेलता देखने के लीए। हालांकि उन्हें इस मैच में ज्यादा बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला। लेकिन आखिरी ओवर में उन्होंने 7 गेंदों पर 12 रन की नाबाद पारी खेली। सनराइजर्स हैदराबाद ने अपने धमाकेदार प्रदर्शन के साथ दिल्ली कैपिटल्स को 15 रनों से हराया।

अब्दुल समद ने सनराइजर्स हैदराबाद से किया डेब्यू

दुबई में हो रहे आईपीएल 2020 के जबरदस्त मुक़ाबले में सनराइजर्स हैदराबाद के नए कश्मीरी खिलाड़ी अब्दुल समद ने आखिरकार इस मैच से डेब्यू किया। 18 वर्षीय अब्दुल समद को पिछले साल आईपीएल की टीमों के चुनाव के दौरान सनराइजर्स हैदराबाद ने कश्मीर के युवा खिलाड़ी अब्दुल समद को 20 लाख रुपए में खरीदा था।  यदि देखा जए तो, अब्दुल समद आईपीएल 2020 में खेलने वाले कोई पहले कश्मीरी खिलाड़ी नही  है, इससे पहले भी जम्मू-कश्मीर के अन्य तीन खिलाड़ियों रसिख सलाम, मंजूर डार, परवेज रसूल भी आईपीएल यानी  इंडियन प्रीमीयर लीग का हिस्सा रह चुके हैं। जहाँ रसिख सलाम को मुंबई इंडियंस टीम से खेलने का अवसर प्राप्त हुआ, तो वही परवेज रसूल पुणे वॉरियर्स फ्रेंचाइजी का हिस्सा रह चुके हैं और किंग्स इलेवन पंजाब ने मंजूर डार  को खरीदा था लेकिन, अफसोस इन्हे आईपीएल के तरफ से खेलने का मौका नहीं मिल सका।

मंगलवार को अबू-धाबी में खेले गए आईपीएल के 11वें संस्करण में जम्मू कश्मीर के सबसे युवा क्रिकेटर अब्दुल समद ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 2016 की विजेता टीम सनराइजर्स हैदराबाद के तरफ से मैदान में उतरे थे। जब अब्दुल समद दिल्ली कैपिटल के खिलाफ मैच खेलने के लीए मैदान मे उतरे थे, तब सनराइजर्स हैदराबाद का स्कोर 17.5 ओवर पर 144 रन था, इसका मतलब जब अब्दुल समद पिच पर आए तब सनराइजर्स हैदराबाद की पारी के केवल 13 गेंद ही बाकी थे। जहाँ समद को केवल 7 गेंदें ही खेलने का मौका मिला। अब्दुल समद ने इन 7 गेंदों पर 1 चौके और 1 छक्के लगाकर कुल 12 रन बनाए और नाबाद वापस लौट आए एक। तरह से यह कहा जा सकता है कि अब्दुल समद सनराइजर्स हैदराबाद के लिए एक भाग्यशाली खिलाड़ी के रूप में रहे, इसी के साथ अब्दुल समद के प्लेइंग इलेवन में शामिल होते ही सनराइजर्स हैदराबाद ने इस टूर्नामेंट में अपना पहला मुकाबला जीत लिया।

कौन है अब्दुल समद

28 अक्टूबर 2001 में जन्मे, कश्मीरी क्रिकेट खिलाड़ी अब्दुल समद दाहिने हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के स्पिनर है। इन्होंने साल 2018-2019 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए प्रदर्शन किया। उसके बाद अब्दुल समद को 27 जनवरी 2019 को विजय हजारे ट्रॉफी खेलने का शुभ अवसर प्राप्त हुआ। जबकि 9 दिसंबर 2019 को रणजी ट्रॉफी खेलने का मौका मिला। अब्दुल समद ने अपनी शिक्षा कश्मीर के तेघड़ा स्थित लारेंस हायर सेकेंडरी स्कूल से 12वीं तक की पढ़ाई की है, जिसके बाद उन्होंने क्रिकेट की बारीकियों को समझने और सिखने मे जूट गए। अब्दुल समद ने अब तक अपने करियर में 10 मैच खेले हैं जिनमें इनका 39.46 औसत से 592 रन बना चुके हैं। जिसमें दो शतक भी शामिल है। अब्दुल समद ने इस साल के टी-20 मैचों में 40 की औसतन और 137.70 के स्ट्राइक रेट के साथ 240 रन बना चुके हैं। 

कश्मीरी खिलाड़ी अब्दुल समद सबकी नजरों में तब आ गए, जब उन्होंने वर्ष  2019-2020 मे विजय हजारे ट्रॉफी के लिए गुजरात के खिलाफ 53 गेंदों पर 68 रनों की पारी खेली। यह मैच उस समय जयपुर में खेला गया था। और फिर इन्हे दुनिया की सबसे महंगी लीग आईपीएल के 11वें संस्करण के लिए जम्मू-कश्मीर के इस युवा खिलाड़ी को चुन लिया गया। इन्होने सर्वप्रथम डेविड वॉर्नर की अगुवाई वाली बेस्ट टीम के साथ अपने करियर की शुरुआत की।

इरफान पठान ने कहा अब्दुल समद पावरहीटर के साथ एक बेहतरीन गेंदबाज भी

अबू धाबी में चल रहे आईपीएल मैच के दौरान कमेंट्री कर रहे भारत के  स्टार स्पोर्ट्स मैन इरफान पठान ने अब्दुल समद की जमकर तारीफ की, इरफान पठान ने कहा कि दुनिया अभी केवल अब्दुल समद को केवल बल्लेबाज या पावर हीटर के तौर पर ही जानती है और ऐसे बहुत ही कम लोग हैं, जो अब्दुल समद को जानते हैं की वह एक अच्छी लीग स्पिन गेंदबाजी भी करते हैं। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि उन्हें उम्मीद है, की आने वाले दो-तीन सालों के अंदर अब्दुल समद एक अच्छे ऑलराउंडर के तौर पर दुनिया के सामने उतरेंगे।

इरफान पठान कश्मीरी क्रिकेट टीम के कोच रह चुके है, इसी वजह से उन्होंने अब्दुल समद को खेलते हुए काफी नजदीक से देखा है। इरफ़ान पठान ने ट्वीट करते हुए कहा कि, चूंकि अब अब्दुल समद आईपीएल 2020 से डेब्यू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है, तो ऐसा कहा जा सकता हैं, कि अब्दुल समद के वजह से  जम्मू-कश्मीर मे भी क्रिकेट के चाहने वालो को पंख लग गए हैं। मैं उनके इस लंबे क्रिकेट सफर के लिए बहुत सारी शुभकामनाएं देता हूं और मुझे उम्मीद है कि इससे जम्मू कश्मीर की युवा पीढ़ियों में सकारात्मक लहर बनी रहेगी।