क्या एक बार फिर से मैदान पर खेलते नजर आ सकते हैं युवराज सिंह ?

क्या एक बार फिर से मैदान पर खेलते नजर आ सकते हैं युवराज सिंह ?

जी हां, आपने बिलकुल सच सुना है।  युवराज सिंह ने बीसीसीआई को पत्र लिखा है।  जिसमे उन्होंने बोला  है कि में अब मानसिक और शारीरिक दोनों तोर पर बिलकुल फिट महसूस कर रहा हूँ।  में अपना संन्यास का फैसला वापिस लेना चाहता हूँ और एक बार फिर से मैदान पर अपनी कला का प्रदर्शन करना चाहता हूँ।  

हालाँकि बीसीसीआई का इस पत्र पर अभी कोई जवाब नहीं आया है।  परन्तु युवराज ने ट्वीट क्र अपने फैंस को खुशखबरी दे दी है।  युवराज ने लिखा “बहुत जल्दी शेर वापिस आ रहे हैं मैदान में” बीसीसीआई के जवाब का इंतज़ार रहेगा।  गौरतलब है कि पिछले वर्ष जून माह में युवराज सिंह ने संन्यास लेने का फैसला किया।  उनका इस तरह अचानक से संन्यास की घोषणा करना एक चौंका देने वाला मामला था।  परन्तु जिस तरह से उन्हें बार बार टीम से बाहर किया जा रहा था , क्रिकेट जगत में ये बातें होनी शुरू हो चुकी थी।  

हालाँकि युवराज ने पिछले दो सालों में आईपीएल में भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया।  बावजूद उनके हैरतअंगेज़ प्रदर्शन के वो टीम में जगह नहीं बना पाए।  इस बात से युवराज भी काफी खफा हुए थे चयनकर्ताओं।  2019  आईपीएल के तुरंत बाद युवराज ने सन्यास की घोषणा कर दी थी।  संन्यास के बाद भी युवी ने मैदान में उतरना नहीं छोड़ा।  

भारतीय क्रिकेट से संन्यास लेकर वो पहले भारतीय बने जिसने विदेशी घरेलू लीग खेली हो।  युवी ने संन्यास उपरान्त दुबई और कनाडा में काफी विदेशी मैच खेले।  युवी कनाडा में टोरंटो की टीम के कप्तान भी रह चुके हैं।  पिछले एक साल में युवी ने अपने शरीर की फिटनेस और मानसिक संतुलन को भी फिट रखने की काफी कोशिश की है।  उनकी मेहनत और जज्बे के फलसवरूप उन्होंने विदेशी क्रिकेट में भी दर्शको का  अपने धुआंधार बल्लेबाजी की कला से काफी मनोरंजन किया।  

सिर्फ विदेशी क्रिकेट ही नहीं , युवराज इन दिनों मोहाली स्टेडियम में पंजाब की टीम का होंसला बढ़ाते हुए और उनकी तैयारी करवाते हुए दिखे।  युवी अपना हुनर बाटने में कभी संकोच नहीं करते।  इस साल की किंग्स एलेवेन पंजाब की टीम को भी युवी काफी मदद कर रहे हैं।  युवी कहते हैं कि उन्हें मैदान में रहना बहुत पसंद है और वो भारतीय टीम की तरफ से खेलना और ड्रेसिंग रूम की मस्ती को बहुत मिस कर रहे हैं।  

हालाँकि यदि बीसीसीआई उनकी अर्जी स्वीकार कर भी लेता है तो भारतीय टीम में सिलेक्शन होना काफी मुश्किल हो सकता है।  गौरतलब है कि युवी भी इस बात से भली भांति परिचित हैं।  परन्तु युवी ने ये कहा है कि यदि बीसीसीआई मेरी बात मान लेता है तो में घरेलू टूर्नामेंट जैसे कि रणजी ट्रॉफी, देओधर ट्रॉफी , दुलीप ट्रॉफी आदि खेल पाउँगा।  उम्मीद करता हूँ कि एक बार फिर से मैं भारतीय टीम के चयनकर्ताओं का दिल जीत पाउ और मुझे एक बार फिर से इंडिया की जर्सी पहन कर मैदान में उतरने का मौका मिलेगा।  

युवी के फैंस उन्हें अभी तक भूलें नहीं है।  गौरतलब है कि युवी भारतीय टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा थे , और एक विस्फोटक बल्लेबाज के रूप में जाने जाते हैं।  यदि युवी फिर से मैदान पर वापिस आते हैं तो दर्शको का उत्साह काफी बढ़ जायेगा।  

क्रिकेट से जुडी हर खबर पायें सब से पहले अपने फ़ोन पर।  हमारे पेज से जुड़े रहने के लिए अभी लाइक और सब्सक्राइब करें।