स्मिथ और वार्नर समेत 30 विदेशी खिलाड़ी भी नहीं खेल पाएंगे आईपीएल 2020 !

स्मिथ और वार्नर  समेत 30 विदेशी खिलाड़ी भी नहीं खेल पाएंगे आईपीएल 2020 !

आईपीएल गवर्निंग कॉउन्सिल अपने खिलाड़ियों की सुरक्षा में किसी तरह का समझौता नहीं करना चाहती।  गौरतलब है कि तत्काल समय में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बिच टी 20  सीरीज खेली जा रही है।  इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टीम के कुल तीस खिलाड़ी आईपीएल का हिस्सा हैं।  यह सीरीज 16  सितम्बर को खत्म होगी।  फ्रेंचाईजी की तरफ से अपील की गयी थी कि सभी खिलाड़ी पहले से बायो सिक्योर माहौल में हैं।  इसलिए उन्हें आईपीएल खेलने की इजाजत दी जाए।  

परन्तु आईपीएल गवर्निंग कॉउन्सिल ने उनकी अपील को ख़ारिज कर दिया और सभी खिलाड़ियों को छह दिन आइसोलेसन में रहने की हिदायत दी है।  कॉउन्सिल के मुताबिक बाहरी  देश से आये खिलाड़ियों की वजह से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।  इसलिए वो किसी भी तरह के समझौते से साफ़ इंकार करते हैं।  इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाडियों को 17  सितम्बर तक यूएई पहुंचना होगा।  उसके तुरंत बाद ही उन्हें क्वारंटीन किया जायेगा।  

क्वारंटीन पीरियड पूरा होने के बाद खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट किया जायेगा।  यदि रिपोर्ट नेगेटिव आयी तभी उन्हें खेलने की इजाजत दी जायेगी।  स्टीव स्मिथ, डेविड वार्नर, जोस बटलर, जॉनी बेयरस्टो जैसे बड़े नाम इस लिस्ट में शामिल हैं।  इस सीजन में सब से महंगे खिलाडी पैट कमिंस का नाम भी इस सूचि में शामिल है।  उन्हें कोलकाता नाईट राइडर्स ने 15.5  करोड़ में ख़रीदा है।  

खिलाड़ियों के क्वारंटीन होने का सब से ज्यादा खामियाजा राजस्थान रॉयल्स को भुगतना पड़ सकता है।  क्यूंकि टीम के कप्तान समेत दो बड़े खिलाड़ी इन्ही दो टीमों में से हैं।  कप्तान स्टीवे स्मिथ , विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर और तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर के मैदान पर उपस्तिथ न होने से टीम के प्रदर्शन पर काफी बुरा प्रभाव पड़ने की उम्मीद है।  सिर्फ राजस्थान रॉयल्स ही नहीं बल्कि अन्य टीमों में भी काफी महत्वपूर्ण और बड़े नाम शामिल हैं जो इस साल शायद आईपीएल का हिस्सा न बन पाएं।  आईपीएल और क्रिकेट जगत के फैंस अपने पसंदीदा खिलाड़ी को मैदान पर खेलता देखना चाहते हैं और हम उम्मीद करते हैं कि उन्हें निराश न होना पड़े।  

यदि सभी खिलाड़ियों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आती है तो उन्हें 23  सितम्बर के बाद होने वाले मैच में खेलने की इजाजत मिल जाएगी।  कहा जा रहा है यदि एक भी खिलाड़ी की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी तो किसी भी ऑस्ट्रेलियाई या इंग्लैंड टीम के खिलाड़ी को आईपीएल में शामिल नहीं होने दिया जायेगा।  कोरोना के नियमो के खिलाफ जाना नुकसानदायक हो सकता है।  परन्तु यदि आईपीएल से सभी प्रसिद्ध खिलाड़ी बाहर किये जायेंगे तो शायद आईपीएल के उत्साह में भी काफी गिरावट आ सकती है।  

फ्रेंचाईजी की तरफ से लगातार अपील की जा रही है।  परन्तु आईपीएल गवर्निंग कॉउन्सिल अपने फैसले पर अड़े हुए हैं।  खेर ये सही भी है , यदि किसी समझौते के कारण संक्रमण फ़ैल जाता है तो इसका नतीजा आईपीएल रद्द करना भी हो सकता है।  यदि ऐसा हुआ तो बीसीसीआई समेत सभी टीमों के मालिक को भारी नुक्सान झेलना पड़ सकता है।  

आईपीएल और क्रिकेट से जुडी हर खबर पर रखें अपनी पेनी नजर।  अभी लाइक और सब्सक्राइब करें हमारा पेज।